ADVERTISEMENT

Bookmark and Share

Register To Recieve Latest Poems On Your Email or Mobile

Enter your email address:

Click Here To Subscribe On Mobile Bookmark and Share

गुरुवार, 10 जनवरी 2013

लोग सुंदरता की बात करते हैं



लोग सुंदरता की
बात करते हैं
सुन्दर चेहरों
मीठी बातों पर
आसक्त होते हैं
उनकी पसंद पर
ना कोई उलझन
ना ऐतराज़ मुझे
मैं सुन्दर चेहरे
मीठी बातों से अधिक
दयालु ह्रदय,
निश्छल मन का 
उपासक हूँ
उन्हें ही सुन्दरता का
पैमाना मानता हूँ
कोई कुछ भी कहे
मुझे आडम्बर रहित
परमात्मा की
बतायी हुई राह पर
चलने वाले लोग
पसंद आते रहे हैं
आते रहेंगे
डा.राजेंद्र तेला,निरंतर
890-09-03-12-2012
सुन्दरता

3 टिप्‍पणियां:

  1. सराहनीय प्रस्तुति.बहुत सुंदर

    उत्तर देंहटाएं
  2. प्रभावशाली ,
    जारी रहें।

    शुभकामना !!!

    आर्यावर्त (समृद्ध भारत की आवाज़)
    आर्यावर्त में समाचार और आलेख प्रकाशन के लिए सीधे संपादक को editor.aaryaavart@gmail.com पर मेल करें।

    उत्तर देंहटाएं
  3. मैं सुन्दर चेहरे
    मीठी बातों से अधिक
    दयालु ह्रदय,निश्छल मन
    का उपासक हूँ
    उन्हें ही सुन्दरता का
    पैमाना मानता हूँ...................निर्मल मन के भाव

    पर आज भी लोग सुंदरता के उपासक ही हैं

    उत्तर देंहटाएं