ADVERTISEMENT

Bookmark and Share

Register To Recieve Latest Poems On Your Email or Mobile

Enter your email address:

Click Here To Subscribe On Mobile Bookmark and Share

मंगलवार, 8 नवंबर 2011

अपनी अपनी बातें..........: स्त्री बल

अपनी अपनी बातें..........: स्त्री बल: अधिकतर पुरुष वर्ग समझता है , स्त्रियाँ निर्बल होती हैं , वास्तविकता इसके विपरीत है , शारीरिक बल स्त्रियों का कम हो सकता पर , आत्मिक बल अधिक...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें