ADVERTISEMENT

Bookmark and Share

Register To Recieve Latest Poems On Your Email or Mobile

Enter your email address:

Click Here To Subscribe On Mobile Bookmark and Share

मंगलवार, 26 जुलाई 2011

राम कहूं या अल्ला क्या फर्क पड़ता ?

मंदिर जाऊं
या मस्जिद जाऊं
क्या फर्क पड़ता ?
पूजा करूँ या 
इबादत करूँ
क्या फर्क पड़ता ?
जब नाम उसका लेना
उसका कहा करना
इंसानियत से जीना
राम कहूं या अल्ला
क्या फर्क पड़ता ?
डा.राजेंद्र तेला,निरंतर
26-07-2011

1234-114-07-11

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें