ADVERTISEMENT

Bookmark and Share

Register To Recieve Latest Poems On Your Email or Mobile

Enter your email address:

Click Here To Subscribe On Mobile Bookmark and Share

सोमवार, 6 जून 2011

इस मुल्क का क्या होगा ?

इस मुल्क का क्या होगा ?
 जहाँ निहत्थों को लाठी
अलगाववादियों  को सुरक्षा
मिलेगी
जनता का पैसा,भ्रष्टाचारियों द्वारा
विदेशों बैंकों में छुपा कर रखा जाएगा
देश का किसान आत्महत्या करता रहेगा
इस मुल्क का क्या होगा ?
जहाँ सरकार भ्रष्टाचारियों को
बचाती रहेगी
सत्ता के लिए आंतकवादियों को
फांसी की सज़ा से बचाती रहेगी
घर जाकर मिजाजपुर्सी होती रहेगी 
इस मुल्क का क्या होगा ?
जहाँ शहीदों की विधवाएं रोती रहेगी
 शहीदों के नाम पर राजनीती होती रहेगी
नेताओं की मूर्तियाँ लगती रहेगी
इस मुल्क का क्या होगा ?
जहाँ धर्म,भाषा,जात,पांत के नाम पर
नेताओं की कारगुजारियां चलती रहेगी
जनता को निरंतर
झूठी दिलासा मिलती रहेगी
इस मुल्क का क्या होगा ?
जहाँ भूखी जनता,भूखी रहेगी
महंगाई और भ्रष्टाचार से त्रस्त रहेगी
नेताओं के जाल में फंसती रहेगी
06-06-2011
1008-35-06-11

5 टिप्‍पणियां:

  1. Dr. shyam gupta ने कहा…

    होगा वही जो मन्जूरे खुदा होगा....
    ६ जून २०११ १२:५९ अपराह्न

    उत्तर देंहटाएं
  2. kirti hegde ने कहा…

    वही होगा जो मन्जूरे खुदा होगा...
    ६ जून २०११ १०:३३ अपराह्न

    उत्तर देंहटाएं
  3. गंगाधर ने कहा…

    देखते जाइये अभी क्या-क्या होता है.
    ६ जून २०११ ७:५२ अपराह्न

    उत्तर देंहटाएं
  4. तीसरी आंख7 जून 2011 को 12:37 pm

    तीसरी आंख ने कहा…

    भगवान भरोसे चल रहा है, उसी के भरोसे ही चलेगा
    ७ जून २०११ ९:३१ पूर्वाह्न

    उत्तर देंहटाएं
  5. rubi sinha ने कहा…

    जब हम जैसे लोग कायरता दिखायेंगे तो देश भगवान भरोसे ही चलेगा. चलिए कम से कम आप लोग यह तो मानते है की यह देश भगवान के भरोसे है. यानि भगवान यही रहते हैं भारत माँ को बचाने के लिए, क्योंकि भारत में रहने वाले लोग कायर हो गए हैं. मुसलमान पाकिस्तान के गुण गाता है और हिन्दू उनके पिछलग्गू बने हैं. जिस तरह हम अपने परिवार की जिम्मेदारियां निभाते हैं, उसी तरह देश के प्रति भी जिम्मेदारी निभाएं तो परिवर्तन हो सकता है पर यहाँ तो लोग बाबा रामदेव की हंसी उड़ाते हैं जो देश के प्रति समरपित हैं.
    ७ जून २०११ ११:५० पूर्वाह्न

    उत्तर देंहटाएं